मुख्य सचिव ने जारी किये आदेश, अलर्ट रहने की दी हिदायत

मानसूनी आपदा को देखते हुए सीएम पुष्कर सिंह धामी ने एक्शन प्लान बनाया है। उतराखंड सरकार ने 30 सितम्बर 2022 तक राज्य में सरकारी कर्मचारियों की छ़ुट्टियों पर रोक लगा दी है। मुख्य सचिव डॉ एसएस संधू की ओर से इस संदर्भ में आदेश किए गए हैं। पर्वतीय जिलों में अधिकारियों को अलर्ट रहने की हिदायत दी गई है।
मुख्य सचिव ने सभी अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव, सचिव और विभागाध्यक्षों को दिए निर्देश में कहा है कि मानसून के समय राज्य में बड़े स्तर पर आपदा की घटनाएं होती है। इन घटनाओं से प्रभावित लोगों के राहत बचाव के साथ ही पेयजल, बिजली, सड़क आदि व्यवस्थाओं को ठीक करने में भी कर्मचारियों की जरूरत होती है। ऐसे में सभी कर्मचारियों के अवकाश पर 30 सितम्बर तक रोक लगाई जाती है। उन्होंने कहा कि राज्य में यह देखने को मिल रहा है कि कई कर्मचारी उच्च अधिकारियों से लम्बी अवधि का अवकाश मंजूर करा लेते हैं जिससे राहत बचाव के काम प्रभावित होते हैं। उन्होंने कहा कि अब अपरिहार्य परिस्थितियों के अलावा कर्मचारियों के अवकाश मंजूर नहीं किए जा सकेंगे।
यदि किसी कर्मचारी को अपरिहार्य परिस्थिति में अवकाश मंजूर किया जाता है तो उसके आदेश में ही प्रतिस्थानी की व्यवस्था भी करनी होगी। उन्होंने इन आदेशों को कड़ाई से लागू करने के निर्देश भी दिए हैं। विदित है कि पूर्व में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अफसरों के अवकाश पर रोक लगाने के निर्देश दिए थे। उसके बाद लोनिवि मंत्री सतपाल महाराज ने लोनिवि और सिंचाई विभाग में अवकाश पर रोक लगाई थी। इसके बाद अब मुख्य सचिव ने सभी कर्मचारियों के अवकाश पर रोक लगा दी है।

ग्रामीणों ने ट्रंचिंग ग्राउंड के विरोध में नगर निगम कार्यालय में किया प्रदर्शन

गुमानीवाला की लालपानी बीट में आबादी के बीच बनने वाले ट्रंचिंग ग्राउंड के विरोध में एकजुट हुए ग्रामीणों ने सोमवार को नगर निगम कार्यालय में हुंकार भरी। विरोध प्रदर्शन के बीच लोगों ने ट्रंचिंग ग्राउंड को आबादी से करीब 5 किलोमीटर दूर शिफ्ट करने और शहर से कूड़ा लेकर आने वाली गाड़ियों का रास्ता देहरादून रोड स्थित सौ फुटी से खोलने की मांग की। चेताया कि जल्द सकारात्मक कार्रवाई नहीं हुई तो उग्र आंदोलन के लिए बाध्य होंगे।
सोमवार को गुमानीवाला की प्रधान दीपिका व्यास, भट्टोवाला प्रधान दीपा राणा, पार्षद वीरेंद्र रमोला, पंचायत सदस्य संदीप कुड़ियाल, मानवेंद्र कंडारी के नेतृत्व में एकत्रित गुलरानी, रुषाफार्म, अमित ग्राम, गुर्जर बस्ती, माया मार्केट के ग्रामीण जुलूस की शक्ल में नगर निगम के खिलाफ नारेबाजी करते हुए निगम कार्यालय पहुंचे।
आक्रोशित ग्रामीणों ने नगर निगम ऋषिकश के गुमानीवाला क्षेत्र में ट्रंचिंग ग्राउंड बनाने की योजना का पुरजोर विरोध किया। विरोध प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों ने कहा कि जिस जगह ट्रंचिंग ग्राउंड बनेगा वह आबादी के बीचोंबीच है। आबादी के बीच कूड़ा डंप होने से ग्रामीणों का रहना मुहाल हो जाएगा। एक स्वर में ट्रंचिंग ग्राउंड के लिए आबादी से दूर भूमि उपलब्ध कराए जाने की मांग की। चेताया कि आबादी के बीच कूड़ा निस्तारण का पुरजोर विरोध होगा।
विरोध प्रदर्शन में पार्षद विजेन्द्र मोघा, पार्षद विपिन पंत, रूकमा व्यास, दीपक मेहर, जुगल क्षेत्री, खेम सिंह, सुमति रावत, आरती भट्ट, बबीता डोभाल, रीना रांगड़, पूजा थापा, संगीता सकलानी, कविता, हरपाल राणा, विक्रम जीना, तेज सिंह क्षेत्री, मनवीर भंडारी, नत्थी लाल सेमवाल, विष्णु थापा, अजीत गुरूंग, बलजीत सिंह, सतपाल राणा, जगनमोहन रावत, विजय सकलानी, मलकीत सिंह, बसीर, रमजान, संजय कंडारी, अनीता नैथानी, राजमती रावत, लता देवी, मोहनी देवी, राधा देवी, पार्वती, दिला देवी, रजनी देवी, विमला देवी, रूपा देवी, आरती देवी, कुसुम देवी, छूनकी देवी, गुड्डी देवी आदि मौजूद रहे।

नगर निगम प्रशासन पर स्थानीय लोगों की उपेक्षा का आरोप

उत्तराखंड जन विकास मंच ने लाल पानी बीट स्थित गुलरानी क्षेत्र में प्रस्तावित ट्रंचिंग ग्राउंड का विरोध किया है। मंच सदस्यों ने नगर निगम प्रशासन पर स्थानीय लोगों की उपेक्षा का आरोप लगाया। उन्होंने उत्तराखंड राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के चेयरमैन को ज्ञापन भेजकर प्रस्तावित ट्रंचिंग ग्राउंड से होने वाली मुश्किलों को उठाया है।
सोमवार को उत्तराखंड जन विकास मंच के बैनर तले कई लोग ऋषिकेश तहसील में एकत्रित हुए। उन्होंने एसडीएम के माध्यम से उत्तराखंड राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के चेयरमैन आरके सुधांशु को ज्ञापन प्रेषित किया। मंच के अध्यक्ष आशुतोष शर्मा ने कहा कि लाल पानी बीट स्थित गुलरानी क्षेत्र में नगर निगम ऋषिकेश की ओर से ट्रंचिंग ग्राउंड बनाया जाना प्रस्तावित है। यह प्रस्तावित ट्रंचिंग ग्राउंड आबादी क्षेत्र से मात्र 10 मीटर की दूरी पर स्थित है। नगर निगम प्रशासन ने स्थानीय आबादी की उपेक्षा करते हुए केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मानकों के विपरीत एकपक्षीय फैसला लिया है। इसके चलते भविष्य में हवा, मिट्टी और पानी प्रदूषित होने की संभावना बनी हुई है।
समिति संयोजक सत्य कपरूवान ने कहा कि किसी भी दशा में प्रस्तावित ट्रंचिंग ग्राउंड आबादी क्षेत्र में नहीं बनना चाहिए। सह संयोजक मनोज गुसाईं ने कहा कि पूर्व में भी इस ट्रंचिंग ग्राउंड को लेकर उन्होंने और सभी जनप्रतिनिधियों ने जन सुनवाई के दौरान अपना विरोध प्रकट किया था, लेकिन अचानक नगर निगम द्वारा प्रस्तावित ट्रंचिंग ग्राउंड के लिए निविदाएं आमंत्रित करना ग्रामीण व शहरी क्षेत्र के लोगों के साथ एक छलावा है। इसका हम सभी विरोध करते हैं। ज्ञापन देने वालों में जनार्दन नवानी, कोषाध्यक्ष विनोद पोखरियाल, धर्मेंद्र सिंह, लालमणि रतूड़ी, पूर्व बीडीसी सदस्य वीर सिंह नेगी, फतेह सिंह, राकेश थपलियाल, अजय कुमार वर्मा, यतेंद्र थपलियाल, भूपेंद्र भट्ट, कुंवर सिंह आदि उपस्थित रहे।

चिह्नित अतिक्रमण पर कार्रवाई नही करने का आरोप, टीम को बैरंग लौटाया

नगर के अंदर कोयलघाटी तिराहे से चंद्रभागा पुल तिराहे तक हरिद्वार-ऋषिकेश राष्ट्रीय राजमार्ग के चौड़ीकरण कार्य में बाधा बन रहे अतिक्रमण को हटाने पहुंची विभागीय टीम को विरोध के चलते वापस लौटना पड़ा। विरोध करने वालों ने टीम पर एकतरफा कार्रवाई करने का आरोप लगाया है।
सोमवार दोपहर राष्ट्रीय राजमार्ग खंड डोईवाला के सहायक अभियंता शिव सिंह रावत और तहसीलदार डा. अमृता शर्मा के नेतृत्व में टीम हाईवे पर एसबीएम कॉप्लेक्स के पास पहुंची। यहां एसबीएम इंटर कॉलेज के मेन गेट को अतिक्रमण के रूप में चिह्नित करने के बाद जेसीबी से उसे ध्वस्त करने की कार्रवाई शुरू की गई।
विभागीय कार्रवाई की भनक लगते ही कॉलेज के प्रधानाचार्य कुछ लोगों के साथ मौके पर पहुंचे और कार्रवाई का विरोध करने लगे। कांग्रेस नेता जयेंद्र रमोला ने अतिक्रमण की कार्रवाई पर सवाल उठाते हुए कहा कि पिछले दो-तीन साल से हाईवे प्रशासन ने कोयलघाटी तिराहा से चंद्रभागा पुल तक दर्जनों अतिक्रमण चिह्नित किए हैं। नियमानुसार चिह्नित सभी अवैध कब्जों पर कार्रवाई होनी चाहिए, लेकिन विभाग मनमर्जी से एक-दो अतिक्रमण हटाकर खानापूर्ति कर रहा है।
इंटर कॉलेज के मेन गेट को ध्वस्त करने की कार्रवाई के बाद टीम ने आसपास के अतिक्रमण को छोड़ दिया। विरोध करने वालों ने अतिक्रमण की कार्रवाई को बीच में ही रुकवा दिया। लिहाजा विभागीय टीम को कार्रवाई बीच में ही छोड़कर वापस लौटना पड़ा।

गुरुवार को सख्ती से हटेगा अतिक्रमण
राष्ट्रीय राजमार्ग खंड डोईवाला के अपर सहायक अभियंता छत्रपाल सिंह ने बताया कि कोयलघाटी तिराहे से चंद्रभागा पुल तिराहे तक हाईवे चौड़ीकरण का कार्य जल्द पूरा करना है। लिहाजा चौड़ीकरण में बाधक बन रहे अतिक्रमण को गुरुवार से सख्ती से हटाया जाएगा। भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर रहेगा। पहले चरण में कोयलघाटी तिराहे से मुखर्जी मार्ग पर निर्मल आश्रम के गेट तक और दूसरे चरण में निर्मल आश्रम गेट से चंद्रभागा पुल तिराहे तक अतिक्रमण पर कार्रवाई होगी। इसके लिए पूरी तैयारी कर ली है।

कोरोना योद्धा राजकरण सिंह को समर्पित की गंगा आरती

ऋषिकेश गंगा आरती ट्रस्ट एवं सिंह परिवार के सदस्यों ने लखनऊ निवासी गंगा व गौ प्रेमी और कोरोना योद्धा राजकरण सिंह ऊर्फ मुन्ना सिंह के भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुये उनकी आत्मा की शान्ति हेतु मौन रखा। जानकीपुल पूर्णानंद घाट गंगा तट पर महिलाओं द्वारा होने वाली माँ गंगा की आरती स्वर्गीय श्री स्वर्गीय राजकरण सिंह ऊर्फ मुन्ना सिंह को समर्पित की। कोरोना संक्रमण काल में उन्होंने जान की परवाह किए बगैर लोगों को संक्रमण से बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी, कोरोना संक्रमण काल के दौरान 1000 लोगों को प्रतिदिन भोजन की व्यवस्था कराई थी।
राजकरण सिंह ऊर्फ मुन्ना सिंह की याद में आज पूर्णानंद घाट में विशेष पूजन और श्री गीता पाठ का आयोजन किया गया जिसमें सम्पूर्ण सिंह परिवार ने हिस्सा लिया। डॉक्टर सुनील दत्त थपलियाल कर्मठ संयोजक आवाज साहित्य संस्था ने कहा कि उनका जीवन अद्भुत व्यक्तित्व, सरल हृदय और प्रभु के श्री चरणों में समर्पित जीवन था।
श्रद्धांजलि देने वालों में डॉक्टर ज्योति शर्मा, गंगा भक्त सोनल पांड्या, सुशीला सेमवाल, संध्या शुक्ला, आचार्य अभिनव पोखरियाल, दिल्ली से आनन्द गुप्ता, डब्बू सिंह, जस करन सिंह, कुलदीप सिंह, सतीश कुमार, अंकित कुमार, आकाश क्यार आदि शामिल रहे।

कुष्ठ रोगियों के साथ लायंस क्लब डिवाइन ने मनाया नया सत्र

लायंस क्लब इंटरनेशनल ने नया सत्र कुष्ठ रोगियों को राशन वितरित कर मनाया। वहीं, डॉक्टर्स डे के अवसर पर नगर के आठ सम्मानित डॉक्टर को भी सम्मानित किया गया व पांच चार्टर्ड अकाउंटेंट को भी सम्मानित किया गया।

नव मनोनीत अध्यक्ष लियो लायन रजत भोला ने बताया कि लायंस क्लब का नया सत्र आरम्भ हो गया है। इस शुभ अवसर पर लायंस क्लब ऋषिकेश डिवाइन ने 14 बीघा स्थित कुष्ठ आश्रम में राशन वितरित किया।

उन्होंने बताया कि लायंस क्लब इंटरनेशनल गत 105 वर्षों से जरूरतमंदों की सेवा के लिए प्रतिबद्ध है, इसी कड़ी में लायंस क्लब ऋषिकेश डिवाइन नगर में उसी प्रतिबद्धता को आगे बढ़ाते हुए सेवा के लिए तत्पर रहता है।

उन्होंने बताया कि आज क्लब द्वारा आठ डॉक्टर्स, पांच चार्टर्ड अकाउंटेंट्स को भी सम्मानित किया गया। जिससे कि वह अपनी सेवाओं को और अधिक रूप में जरूरतमंदों का पहुंचाने का प्रयास करें।

संस्थापक ललित मोहन मिश्र ने बताया कि गत सत्र में भी द्वारा 111 सेवा कार्य किए गए जिस कारण डिस्ट्रिक्ट 321 ब1 में क्लब को बहुत ऊंचा स्थान प्राप्त हुआ तथा डिस्ट्रिक्ट गवर्नर ने क्लब के कार्यों की खूब सराहना भी की है।

इस अवसर पर पूर्व अध्यक्ष महेश किंगर, नवनियुक्त सचिव महेश गनेरीवाला, नवनियुक्त कोषाध्यक्ष घनश्याम डंग, जगमीत सिंह, विकास ग्रोवर, पवन शुक्ला, कृष्णा कालरा, विक्की पनेसर, आशु डंग, शिवम टूटेजा, नवीन गाँधी आदि उपस्थित रहे।

पुलिस ने महिला से छेड़छाड़ करने के आरोपी को किया गिरफ्तार

कोतवाली अंतर्गत एक महिला से छेड़छाड़ और जबरदस्ती करने के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।
कोतवाली पुलिस ने महिला से छेड़छाड़ करने के आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक बीते रोज एक महिला ने तहरीर देकर बताया था कि मकसूद अली पुत्र सलीम अली निवासी शांतिगर, झुग्गी झोपड़ी ने रात को सोते समय महिला के साथ छेड़छाड़ की। विरोध करने पर जान से मारने की धमकी भी दी। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी मकसूद को परशुराम चौक के पास से गिरफ्तार किया है। कोतवाल रवि सैनी ने बताया कि आरोपी को कोर्ट में पेश किया जायेगा।

देहरादून का पहला स्ट्रैट जेट फाउंटेन का कैबिनेट मंत्री अग्रवाल ने किया लोकार्पण

आवास विकास मंत्री डॉ प्रेम चंद्र अग्रवाल ने प्राधिकरण द्वारा निर्मित एवं संचालित सर्वे चौक रोटरी का लोकार्पण किया। इस रोटरी पर सुंदर बागवानी के साथ ही सुंदर फ़व्वारे का भी संचालन किया जा रहा है।
इस कार्य की लागत लगभग 15.94 लाख रुपए है। यह देहरादून का पहला स्ट्रैट जेट फाउंटेन है। इसकी ऊंचाई 15 फ़ीट है तथा इसमें 7 विभिन्न रंगों की लाइट का प्रयोग किया गया है, जो कि पानी के ऊपर जाने आपना रंग बदलते रहती है।
इस मौके पर विधायक ख़जानदास, मेयर दून सुनील उनियाल गामा, प्राधिकरण सचिव मोहन सिंह बर्निया, उद्यान अधिकारी आशा राम जोशी एवम अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी स्थल पर उपस्थित रहे।

चेक बाउंस-छह माह के कठोर कारावास की सजा सुनाई

चेक बाउंस के मामले में अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत ने दोष सिद्ध होने पर आरोपी को छह माह के कठोर कारावास की सजा सुनाई है। दो महीने में परिवादी को क्षतिपूर्ति धनराशि 16 लाख 50 हजार रुपये अदा करने का आदेश दिया है। निर्धारित अवधि के भीतर क्षतिपूर्ति नहीं देने पर तीन माह की अतिरिक्त सजा भुगतनी पड़ेगी।
अधिवक्ता अमित अग्रवाल ने बताया कि अक्तूबर 2015 में राजेंद्र सिंह ने अपने एक परिचित अनुज कालिया निवासी ऋषिकेश से 15 लाख रुपये उधार लिए थे। दो महीने बाद उधार की रकम चुकाने के एवज में 5 दिसंबर 2015 को 15 लाख का चेक दिया। विश्वास दिलाया कि चेक अनादरित नहीं होगा।
अनुज कालिया ने तय तारीख आने पर चेक बैंक में प्रस्तुत किया। करीब एक महीने बाद बैंक ने चेक यह कहकर लौटा दिया कि संबंधित खाते में रकम नहीं है। चेक बाउंस होने पर अनुज कालिया ने आरोपी को कोर्ट नोटिस भिजवाया। नोटिस प्राप्त करने के बाद भी आरोपी ने उधार की रकम नहीं लौटायी। परिवादी अनुज कालिया ने मामले की शिकायत कोर्ट में दर्ज करायी। कोर्ट में विचाराधीन मामले की अंतिम सुनवाई अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट भवदीप की अदालत में हुई। आरोप साबित होने पर कोर्ट ने सजा सुनायी है।

पुलिस गिरफ्त में अन्तर जनपदीय गिरोह के चार सदस्य

रायवाला के छिद्दरवाला क्षेत्र में राष्ट्रीय राजमार्ग पर देर रात्रि लूट करने वाले अन्तर जनपदीय गिरोह के चार आरोपियों को रायवाला पुलिस व एसओजी ग्रामीण की संयुक्त टीम ने गिरफ्तार किया है। उनके के कब्जे से लूटी गयी 92 हजार रुपये और घटना में प्रयुक्त मोटर साइकिल अपाचे को बरामद की है।
रविवार को उप-महानिरीक्षक, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनमेजय खंडूड़ी ने पत्रकार वार्ता में यह जानकारी दी। 21 जून को तजिन्दर सिंह ग्रोवर पुत्र मोहन सिंह ग्रोवर निवासी 18 गांधी रोड़ देहरादून ने बताया था कि अपने दोस्त रघुवीर सिंह पटवाल के साथ वाहनों की नीलामी में भाग लेने के लिए अपने साथ कैश लेकर अपनी स्कूटी से रुड़की के लिए निकले और 11ः30 बजे वहां पहुंच गये थे। नीलामी खत्म होने पर हम रात 11ः45 बजे रुड़की से देहरादन के लिए चले। रात्रि समय लगभग 01ः40 बजे एक मोटर साइकल पर सवार 03 व्यक्तियों द्वारा रास्ट्रीय राजमार्ग तीनपानी फ्लाइओवर के ऊपर हमें धक्का मार के गिरा दिया और शर्ट के अन्दर रखे कैश 130000 रुपये, ऱघुवीर की चेक बुक और जीएसटी के पेपर की कॉपी लेकर भाग गये। क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश डीसी ढौडियाल व थानाध्यक्ष रायवाला भुवन चन्द्र पुजारी द्वारा अलग-अलग पुलिस टीमों का गठन किया गया। घटना स्थल तीन पानी फ्लाईओवर से राष्ट्रीय राजमार्ग रायवाला, ऋषिकेश, हरिद्वार, रुड़की, लक्सर आदि क्षेत्रों के सीसीटीवी फुटेजों का गहनता से अवलोकन किया गया। टीम द्वारा लोकल स्तर पर सत्यापन की कार्यवाही की गई। एसओजी टीम द्वारा घटना स्थल क्षेत्र से सर्विलांस की मदद से अपराधियों के लोकेशन की गहनता से जांच की गयी। आरोपी सुमित पुत्र ओमपाल नि ग्राम चौतपुर, थाना लक्सर हरिद्वार, विकास उर्फ राजा पुत्र पवन सिंह नि ग्राम मुण्डाखेड़ा कला थाना लक्सर हरिद्वार, टीटू पुत्र पप्पू सिंह नि मुण्डाखेड़ा कलां, थाना लक्सर है। चौथा अभियुक्त विधिविवादित किशोर है। टीम में थानाध्यक्ष भुवन चन्द्र, दारोगा नीरज त्यागी, ज्योति प्रसाद उनियाल आदि थे।