21 सितंबर से खुलेंगे प्राइमरी स्कूल

Primary school will open from September 21

उत्तराखंड प्राइमरी के बच्चे अब स्कूल जा सकेंगे। शिक्षा विभाग 21 सितंबर से प्राइमरी स्तर तक (primary school to open from 21 September) स्कूलों को खोलने जा रहा है।शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से चर्चा करने के बाद शिक्षा सचिव को ये आदेश दिए हैं।

आज शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने सीएम धामी से मुलाकात की तथा प्राइमरी स्कूलों को खोलने को लेकर चर्चा की। सीएम की सहमति के बाद शिक्षा मंत्री ने सचिव राधिका झा को 21 सितंबर से प्राइमरी स्कूल खोलने के निर्देश दिए। अब 21 सितंबर से पांचवीं तक के सरकारी और प्राइवेट स्कूल खुल जाएंगे। इसके लिए विभाग जल्द ही गाइडलाइन जारी करेगा।

स्कूल खोलने को लेकर सभी तरह की सावधानियां बरती जाएंगी। प्राइमरी के बच्चों के स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए कोई लापरवाही नहीं बरती जाएगी। इसके लिए विभाग उचित गाइडलाइन बना रहा है।

लोकल रोटेशन व्यवस्था के अध्यक्ष बने हरीश

टीजीएमओ कार्यालय 13 चंद्रेश्वर रोड पर यातायात पर्यटन विकास सहकारी संघ एवं निदेशक मंडल (डायरेक्टर) बोर्ड की बैठक आहूत की गई। जिसमें सर्व सहमति से आगामी लोकल रोटेशन व्यवस्था के संचालन हेतु यातायात पर्यटन विकास सहकारी संघ के संचालक हरीश नौटियाल को अध्यक्ष चुना गया।

यातायात उपाध्यक्ष नवीन रमोला ने कहा हमें पूर्ण विश्वास है की हरीश नौटियाल वाहन स्वामियों की अपेक्षा पर खरा उतरने का (प्रयास) करेंगे एवं समस्याओं का निवारण करेंगे।

बैठक में टीजीएमओ अध्यक्ष जितेंद्र सिंह नेगी, यातायात अध्यक्ष मनोज ध्यानी, यातायात पर्यटन विकास सहकारी संघ उपाध्यक्ष नवीन रमोला, टीजीएममो उपाध्यक्ष यशपाल राणा, निदेशक बलवीर सिंह रौतेला, दाताराम रतूड़ी, प्रेमपाल बिष्ट, मनोज आर्य, मनोहर रौतेला, योगेश उनियाल, रामचंद्र सुयाल, कुंवर सिंह नेगी, जसपाल रौतेला आदि थे।

पीएम के जन्मदिन पर यूथ कांग्रेस ने मनाया बेरोजगार दिवस

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिन को युवा कांग्रेस ने राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस के रूप में मनाया।

कार्यकर्ताओं ने कहा कि भारत में बढ़ती नौकरियों की समस्या, काम की कमी, कारोबार का ठप्प होना और सरकारी संस्थानों का निजी हाथों में चले जाने के कारण आज युवा निराश हो गया है। घटते रोजगार ने कोरोना काल में भारत की 14 करोड़ से ज्यादा आबादी को बेरोजगार बना दिया, जिसका परिणाम है ‘राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस’ आज के दिन मनाया जा रहा है।

कहा कि देश की युवा जनता आज पीएम मोदी को उनके जन्मदिन की बधाई के साथ-साथ देश में बढ़ती बेरोजगारी के लिए भी चेता रही है।

ऋषिकेश में बनाया जायेगा जीआरपी का मुख्‍यालय

कई वर्षों से हरिद्वार में जीआरपी मुख्‍यालय के लिए जमीन उपब्‍ध न होने के कारण अब जीआरपी का मुख्‍यालय ऋषिकेश में बनाया जायेगा। करीब 8 वर्षों से हरिद्वार रेलवे स्टेशन के एक छोटे से कमरे से संचालित मुख्‍यालय को यहां जमीन उपलब्‍ध नहीं करायी जा सकी है। जीआरपी के एसपी ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से भूमि उपलब्ध कराने की मांग करने पर मुख्यमंत्री ने जीआरपी को जल्द भूमि उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया है। जीआरपी ने इसके लिये बकायदा पत्राचार भी आरंभ कर दिया है। एसपी जीआरपी मंजूनाथ टीसी ने भी ऋषिकेश को जीआरपी मुख्यालय के लिए सबसे उपयुक्त जगह बताया है। आपको बता दें कि ऋषिकेश में योगनगरी रेलवे स्टेशन बन गया है। ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना और डोईवाला-गंगोत्री यमनोत्री परियोजना को देखते हुए भी जीआरपी के अधिकारियों ने योगनगरी रेलवे स्टेशन के आसपास जीआरपी मुख्यालय के लिए जमीन मांगी है।

भाजपा प्रदेश चुनाव प्रभारी दो सदस्यीय टीम के साथ पहुंचे देहरादून

राज्य में विधानसभा चुनाव नजदीक आते ही सतारुढ़ दल भाजपा ने भी अपनी तैयारियां तेज कर दी है। केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री व भाजपा के चुनाव प्रभारी प्रह्लाद जोशी अपने दो दिवसीय दौरे पर आज उत्तराखंड पहुंच गये है। उनके साथ सह प्रभारी लॉकेट चटर्जी और आरपी सिंह भी मौजूद है। चुनाव प्रभारी टीम के राज्य पहुंचने पर जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सहित पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं ने उनका स्वागत किया। जिसके बाद रैली के माध्यम से विभिन्न स्थानों में उनका स्वागत करते हुए चुनाव प्रभारी टीम को भाजपा मुख्यालय देहरादून लाया गया।
इस दौरान केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री व भाजपा के चुनाव प्रभारी प्रहलाद जोशी ने कहा कि उत्तराखंड में चुनाव के लिए वह तैयारियों का जायजा लेने के लिए आये है। उन्होंने कहा कि 2017 के चुनाव में भाजपा ने 57 सीटें जीती थी और अब 2022 के चुनाव में 60 से ज्यादा सीटें लाने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने कहा कि संगठन और युवा मुख्यमंत्री के नेतृत्व में यह आकंड़ा भी भाजपा जरुर हासिल करेगी।
वहीं, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने बताया कि चुनाव प्रभारी के दो दिवसीय दौरे में संगठन और सरकार आगामी चुनाव को लेकर कई तैयारियों को अंतिम रुप देगी। उन्होंने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं की पार्टी है और कार्यकर्ताओं को जो जिम्मेदारी दी जाती है उसे वे पूरी निष्ठा के साथ पूरा करते है।

सीएम ने अपने जन्म दिन पर प्रदेश को कई सौगातें दी

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अपने 46वें जन्मदिन पर प्रदेश के युवाओं के लिए बड़ी घोषणा की है। उन्होंने मार्च 2022 तक प्रदेश में होने वाली सभी प्रतियोगी परीक्षाओं का आवेदन शुल्क माफ करने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि लोक सेवा आयोग, चयन आयोग समेत अन्य भर्तियों के लिए आने वाले फार्म भरने पर युवाओं को कोई फीस नहीं चुकानी होगी। मुख्यमंत्री यह घोषणा बाल वनिता आश्रम में बच्चों के साथ अपना जन्म दिवस मनाते हुए की। यहां उन्होंने वृक्षारोपण कर बच्चों को मिष्ठान भी वितरित किया।
इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने अपने जन्मदिन पर दिन की शुरुआत टपकेश्वर महादेव मंदिर में पूजा अर्चना कर की। इसके बाद मुख्यमंत्री राष्ट्रीय दृष्टिबाधित दिव्यांगजन सशक्तिकरण संस्थान पहुंचे। यहां उन्होंने दृष्टिबाधित बच्चों के साथ अपना जन्म दिवस मनाया। इस अवसर पर उन्होंने संस्थान में बच्चों को स्कूल बस की व्यवस्था और 10 कम्प्यूटर देने की घोषणा भी की।

ई-सेवा केन्द्र, अब वादी और प्रतिवादी को भटकना नहीं पड़ेगा

उत्तराखण्ड उच्च न्यायालय न्याय प्रणाली को और अधिक सरल व सुगम बनाने की दिशा में लगातार आगे कदम बढ़ा रहा है। इस दिशा में एक कदम और आगे बढ़ाते हुए उच्च न्यायालय परिसर में ई-सेवा केन्द्र की स्थापना की गयी है। जिससे न्याय प्रणाली में वादियों एवं प्रतिवादियों को जानकारी के अभाव में होने वाली दिक्कतों से बचाव हेतु जानकारी उपलब्ध कराने के लिए मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति आरएस चौहान की पहल पर न्यायालय परिसर में ई-सेवा केन्द्र की स्थापना की गयी है। जिसका शुभारंभ गुरूवार को मुख्य न्यायमूर्ति आरएस चौहान द्वारा फीता काट कर किया गया।
रजिस्ट्रार जनरल धनन्जय चतुर्वेदी ने बताया कि ई-सेवा केन्द्र उत्तराखण्ड राज्य का पहला सेवा केन्द्र है। इसके बाद अल्मोड़ा में शीघ्र ही ई-सेवा केन्द्र खोला जायेगा। इसकी महत्ता को देखते हुए भविष्य में सभी जनपदों के जिला न्यायालयों में ई-सेवा केन्द्रों की स्थापना की जायेगी। उन्होंने बताया कि स्थापित ई-सेवा केंद्र में वादो की अद्यतन स्थिति तथा सुनवाई तिथि के साथ ही सुनवाई हेतु निर्धारित कोर्ट की भी जानकारी उपलब्ध होगी। उन्होंने बताया कि ई-न्यायालय परियोजना के तहत डिजिटल रूप से उपलब्ध सुविधाओं के सम्बन्ध में पूछताछ एवं सहायता, जजों के अवकाश की सूचना, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, राज्य विधिक सेवा प्राधिकरणों, उच्चतम न्यायालय विधिक सेवा समिति से निःशुल्क कानूनी सेवाओं का लाभ उठाने के बारे में लोगों का मार्गदर्शन भी किया जायेगा। जस्टिस एप की जानकारी मुहैया कराने के साथ ही एप डाउनलोड करने में भी सहायता प्रदान की जायेगी।
इस अवसर पर न्यायमूर्ति मनोज कुमार तिवारी, न्यायमूर्ति शरद कुमार शर्मा, न्यायमूर्ति एनएस धानिक, न्यायमूर्ति आरसी खुल्बे, न्यायमूर्ति रविन्द्र मैथानी, न्यायमूर्ति आलोक कुमार वर्मा, रजिस्ट्रार कम्प्यूटर अम्बिका पन्त, एडवोकेट जनरल एसएन बाबुलकर, बार अध्यक्ष एएस रावत, सचिव विकास बहुगुणा सहित सभी रजिस्ट्रार व अधिवक्तागण उपस्थित थे।

जन सेवा हमारा भाव, उत्तराखण्ड का समग्र विकास हमारा ध्येय- मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को मुख्यमंत्री आवास स्थित जनता मिलन हॉल में आयोजित युवा संवाद कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारे युवाओं का भविष्य उज्ज्वल हो, उन्हें रोजगार, स्वरोजगार के बेहतर अवसर उपलब्ध हों इसके लिये राज्य सरकार प्रतिबद्धता के साथ योजनाओं का क्रियान्वयन कर रही है। युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिये लगभग 24 हजार सरकारी विभागों में उपलब्ध पदों पर नियुक्ति प्रक्रिया प्रारम्भ की गई है। युवाओं को समूह ‘ग’ की परीक्षा में शामिल होने के लिये अधिकतम आयु सीमा में एक साल की छूट दी गई है। भर्ती हेतु आवेदन शुल्क को माफ किया गया है। युवाओं को अधिक से अधिक स्वरोजगार से जोड़ने के लिये विभिन्न क्षेत्रों में कैम्पों का आयोजन का फार्म जमा करने तथा उनकी स्वीकृति प्रक्रिया की कार्यवाही पूर्ण करने की प्रक्रिया प्रारम्भ कर दी गई है। युवाओं की मनोस्थिति से वे परिचित हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के कारण प्रभावित हुए पर्यटन आदि क्षेत्रों में स्वरोजगार से जुड़े लोगों के लिये राहत पैकेज स्वीकार किया गया है। उत्तराखण्ड हर क्षेत्र में आगे बढे, देश के अग्रणी राज्यों में हमारे राज्य का नाम हो इसके लिये हम निरंतर प्रयासरत हैं। जनसेवा का हमारा भाव है। उत्तराखण्ड का समग्र विकास ही हमारा ध्येय है। सरलीकरण, समाधान, निस्तारण और संतुष्टि का मंत्र लेकर हम अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन कर रहे हैं। राज्यहित में जो भी अच्छा होगा वह हम करेंगे।
मुख्यमंत्री ने इस कार्यक्रम में विभिन्न वक्ताओं द्वारा रखे गये सुझावों की सराहना करते हुए कहा कि राज्य हित में जो भी उपयोगी सुझाव होंगे उन पर बिना किसी भेदभाव के कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने इस प्रकार के आयोजनों को भी राज्य हित में बताया।
कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए विशिष्ट अतिथि किशोर उपाध्याय ने कहा कि हमारी माता व बहनों के सिर का बोझ कम हो, युवाओं के सपने साकार हो, हमारे जल, जंगल की उपयोगिता का लाभ राज्य को मिले। राज्यवासियों को उनके हक हकूक मिलें, इस दिशा में पहल होनी चाहिए। उन्होंने दलगत राजनीति से ऊपर उठकर राज्य के विकास में सभी से सहयोगी बनने की अपेक्षा की।
पद्मश्री वैद्य बालेंदु प्रकाश ने राज्य को जड़ी-बूटी के जरिये आयुष प्रदेश बनाने की दिशा में प्रभावी कार्ययोजना बनाये जाने की अपेक्षा की। सामाजिक कार्यकर्ता अनूप नौटियाल ने पर्यावरण संरक्षण के प्रति जन जागरूकता के प्रसार तथा प्लास्टिक के उपयोग को प्रतिबन्धित करने की दिशा में युवाओं को जागरूक किये जाने की जरूरत बतायी। वरिष्ठ पत्रकार अनुपम त्रिवेदी ने कहा कि युवा प्रदेश के युवा मुख्यमंत्री से युवाओं को बड़ी उम्मीद है। उन्होंने ऐसे युवा संवाद कार्यक्रम को सार्थक बताते हुए कहा कि युवा मीडिया के विभिन्न माध्यमों से जुडकर भी अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं।
इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल, स्वामी यतीश्वरानंद, विधायक मुन्ना सिंह चौहान, आदेश चौहान, राजीव शुक्ला, सुरेश राठौर, सुशीला बलूनी आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम में आयोजक नारायण परगाई ने आभार व्यक्त किया।

सरकार की मजबूत पैरवी से हाईकोर्ट ने चारधाम यात्रा से प्रतिबंध हटाया

उत्तराखंड चारधाम यात्रा पर लंबे समय से लगी रोक पर गुरुवार को हुई सुनवाई के बाद माननीय उच्च न्यायालय ने चारधाम यात्रा पर लगी रोक को कुछ प्रतिबंधों के साथ हटा दिया है।

मुख्य न्यायाधीश की खंडपीठ ने केदारनाथ धाम में प्रतिदिन 800, बद्रीनाथ धाम में 1000, गंगोत्री में 600, यमनोत्री धाम में 400 श्रद्धालुओं को दर्शन करने की अनुमति दे दी है।

चारधाम यात्रा करने वाले तीर्थयात्रियों को 72 घंटे पूर्व तक की कोविड जांच की नेगेटिव रिपोर्ट अथवा दोहरी वैक्सीन का प्रमाण पत्र साथ लाना अनिवार्य होगा। साथ ही तीर्थ यात्रियों को देवस्थानम बोर्ड में पंजीकरण कराना अनिवार्य होगा। न्यायालय ने चमोली, रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी जिलों में होने वाली चारधाम यात्रा के दौरान आवयश्यक्तानुसार पुलिस फोर्स लगाने को कहा है। भक्त किसी भी कुंड में स्नान नहीं कर सकेंगे।

मुख्य सचिव डॉ एसएस संधू ने सचिवालय में चारधाम त्यारियो की बैठक के दौरान सम्बंधित सभी विभागों को निर्देश दिए कि चारधाम यात्रा के लिए समय काफी कम बचा है वे अपनी सारी तैयारियां पूरी करें। उन्होंने कहा कि चारधाम प्रदेश के लाखों व्यक्तियों के रोजगार और आजीविका का साधन है। चारधाम आने वाले सभी श्रद्धालुओं को मास्क पहनना, शारीरिक दूरी के मानक का अनुपालन कराना और सैनिटाइजेशन कराना सुनिश्चित किया जाए।

उन्होंने कहा कि माननीय हाईकोर्ट ने स्थानीय लोगों की आजीविका, कोविड नियंत्रण में होने, स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार, एसओपी का कड़ाई से पालन आदि के आधार पर चारधाम यात्रा पर लगी रोक को हटाया है। यात्रा शुरू होने से हजारों यात्रा व्यवसायियों व तीर्थ पुरोहितों समेत उत्तरकाशी, चमोली व रुद्रप्रयाग जिले के निवासियों की आजीविका पटरी पर लौट सकेगी।

छात्रों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की धमकी देने पर निकली आक्रोश रैली

पीजी कॉलेज ऋषिकेश (श्री देव सुमन कैम्प्स) में छात्र – छात्राओं के खिलाफ F.I.R. दर्ज करने की धमकी व अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने के लिए छात्रों द्वारा कॉलेज में जन आक्रोश रैली निकाली गई।
छात्र नेता हिमांशु जाटव व अनिरुद्ध शर्मा ने कहा कि छात्र हितों की हर हक की लड़ाई लड़ी जाएगी और प्राचार्य द्वारा प्रशासन को छात्र छात्राओं के बीच ला कर तानाशाही दिखाई गई जिसके छात्रसंघ पूर्ण रूप से विरोध करते है छात्र छात्राओं के हक के लिए छात्रसंघ किसी भी हद तक जाने के लिए तैयार है इसलिए आज पूरे कॉलेज कैंपस में कॉलेज प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर प्रवेश प्रक्रिया बंद कर वीसी को से बात करने के मांग की।
धरने में पूर्व महासंघ महासचिव संजीत कुमार, पूर्व छात्रसंघ सचिव ऋषभ जैन, रोहित सोनी, आयूष चौहान, राजू, विनीत रतूड़ी, रोहित नेगी, अनुज पाल, अब्दुल, साक्षी तिवारी, सिमरन अरोड़ा, गरिमा, यश अरोड़ा, नीतीश चमोली, मोहित मौर्य, अमन पांडेय, निशांत बागड़ी, कुनाल वाल्मीकि, आकाश उनियाल, विशाल भारती आदि छात्र छात्राएं मौजूद रहे।