कृषि मंत्री की तारीफ में बोले सीएम, सुबोध उनियाल ने मंत्री रहकर नए-नए काॅसेप्ट पर किया काम

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने माजरी ग्रांट डोईवाला, देहरादून में एकीकृत आदर्श कृषि ग्राम योजना का शुभारंभ किया। उन्होंने कृषि मंत्री सुबोध उनियाल को बधाई देकर कहा कि कृषि मंत्री रहते हुए उन्होंने नये-नये कॉन्सेप्ट पर काम किया है। उन्होंने कहा कि यदि कोई कार्य लगन से किया जाए तो निश्चित रूप से सफलता मिलती है। एकीकृत आदर्श ग्राम योजना एक ऐसा कॉन्सेप्ट है, जो मील का पत्थर साबित होगा। एफपीओ को बढ़ावा देने के लिए जागरूकता की आवश्यकता है। जब सभी किसान भाई जागरूक होंगे तो कृषि उत्पादन में सुधार के साथ ही किसानों की आय में बढ़ोत्तरी होगी।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि उत्तराखण्ड में पर्वतीय क्षेत्र में सिंचाई के साथ ही मशीनीकरण पर फोकस करने की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जैविक खेती उत्तराखण्ड की विशेषता है, जिसे बढ़ावा दिया जाना चाहिए। किसानों की आय दोगुनी करने के लिए वैल्यू एडीशन एवं ब्रांड की आवश्यकता है। राज्य सरकार द्वारा इसके लिए एक अम्ब्रेला ब्राण्ड शीघ्र ही शुरू किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सूर्यधार झील निर्माण के बाद 29 गावों को सिंचाई एवं पेयजल के लिए गुरूत्व आधारित पानी मिल सकेगा। इसके साथ ही सिंचाई एवं पेयजल की व्यवस्था के लिए जमरानी एवं सौंग बाँध की बाधाओं को शीघ्र ही निस्तारण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जल संभरण एवं संरक्षण, मानव वन्यजीव संघर्ष आदि को रोकने के लिए 10 हजार लोगों को काम पर लगाया जाएगा। इससे एक ओर लोगों को रोजगार प्राप्त होगा वहीं दूसरी ओर प्रकृति का संरक्षण हो सकेगा। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही प्रदेश में चार बंदर बाडों को शुरू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि किसानों के लिए पहले 2 लाख तक का ब्याजमुक्त ऋण दिया जा रहा था जिसे अब बढ़ाकर 3 लाख रूपए किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि एक स्वस्थ उत्तराखण्ड की परिकल्पना तभी की जा सकती है जब एक माँ और उसका बच्चा स्वस्थ हो। माँ और बच्चा स्वस्थ रह सके इसके लिए राज्य सरकार द्वारा सौभाग्यवती किट शुरू किया जा रहा है। उन्होंने उत्तराखण्ड के किसानों से कृषि के विकास के लिए वैज्ञानिक तरीके अपनाने का अनुरोध करते हुए कहा कि हमें मशीनीकरण को अपनाना होगा ताकि उत्पादन बढ़ाया जा सके।

राज्य और केंद्र सरकार कृषि क्षेत्र को सुधारने का कर रही प्रयास
कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा कि कोरोना काल में जहां सभी क्षेत्रों में मंदी आयी है, कृषि के क्षेत्र में सराहनीय कार्य हुआ है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार एवं केन्द्र सरकार कृषि के क्षेत्र में सुधार के लिए लगातार प्रयास कर रही है। राज्य को कृषि कर्मण पुरस्कार प्राप्त हुआ है। कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने नाबार्ड के अध्यक्ष डॉ. चिंतला से उत्तराखण्ड में मैकेनाईजेशन को बढ़ावा दिये जाने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने पेड़ पौधों की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए नर्सरी एक्ट बनाया है, ताकि किसानों को उच्च गुणवत्ता के पेड़ पौधे मिल सकें। उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया जहां ऑर्गेनिक के पीछे पड़ी है, हमारा राज्य उत्तराखण्ड बाय डिफॉल्ट ऑर्गेनिक है।

सहकारिता मंत्री धनसिंह रावत ने कहा कि राज्य सरकार के द्वारा 04 लाख किसानों को ब्याजमुक्त ऋण उपलब्ध कराया गया है। 12 हजार महिला स्वयं सहायता समूहों को भी 5-5 लाख रूप्ए का ऋण उपलब्ध कराया गया है।

चेयरमैन नाबार्ड डॉ जीआर चिंतला ने देवभूमि उत्तराखण्ड आगमन को अपना सौभाग्य बताते हुए कहा कि कोविड-19 की परिस्थितियों में भी कृषि क्षेत्र में बढ़ोत्तरी हुयी है। उन्होंने कहा कि नाबार्ड ग्रामीण कृषि के विकास के लिए लगातार प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि कृषि क्षेत्र में सुधार के साथ ही उत्तराखण्ड को जैविक खेती पर फोकस करना चाहिए।

पति की बीमारी का फायदा उठा प्रेमी के साथ भागी पत्नी


शादी के वक्त सात वचन में पति की हर सूरत में देखभाल और सेवा करने का प्रण लेकर भी एक पत्नी ने पति को धोखा दे दिया। जी हां, ऋषिकेश में एक पति बीमार होने के चलते एम्स में भर्ती हुआ तो पत्नी ने मौका पाकर प्रेमी के साथ जाने का मन बनाया और वह फुर्र हो गई। मामला ऋषिकेश कोतवाली क्षेत्र के श्यामपुर चैकी का है।

यहां श्यामपुर अमित ग्राम निवासी संतोष कुमार के पुलिस को तहरीर दी। बताया कि लॉकडाउन के दौरान पत्नी को अपने पास बुलाया था। इसके बाद पीड़ित पति को कोरोना हो गया। इसके चलते उसे एम्स में भर्ती होना पड़ा। कोरोना की जंग जीतकर वह 12 दिन बाद घर आए तो इसके बाद पैर में दिक्कत होने लगी। तहरीर में उसने बताया कि वह चलने-फिरने में दिक्कत है। उसकी पत्नी का पड़ोस के युवक के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। बाजार कपड़े लेने जाने की बात कहकर वह घर से निकली और फिर वापस ही नहीं आई। पीड़ित संतोष कुमार ने मामले में तहरीर देकर पत्नी और बच्चों को वापसी गुहार लगाई है। वहीं, पुलिस भी मामले में जुट गई है।

शहर के बाद अब ग्रामीण क्षेत्र में वेंडिंग जोन बनाएगा नगर निगम ऋषिकेश

नगर क्षेत्र में वेंडिंग जोन का सपना साकार करने के बाद नगर निगम ने ग्रामीण क्षेत्रों में भी वेंडिंग जोन की कवायद शुरू कर दी है। मेयर अनिता ममगाई ने अधिकारियों की टीम को लेकर ग्रामीण क्षेत्र गुमानीवाला अमित ग्राम स्मारक वेडिंग जोन को लेकर चयनित की गई भूमि का अवलोकन किया। मेयर ने अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए जल्द से जल्द क्षेत्र में वेल्डिंग जोन स्थापित कर ग्रामीण क्षेत्र की जनता को राहत पहुंचाने की बात कही।

बताया कि अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त धार्मिक एवं पर्यटन नगरी ऋषिकेश में सुव्यवस्थित फुटकर व्यापार को लेकर सरकार की योजना वेल्डिंग वेंडिंग जोन को धरातल पर उतारा जा रहा है। प्रथम फेस में देहरादून रोड स्थित बालाजी बगीचे के निकट वेडिंग जोन स्थापित कराया गया है इसके बेहतर संकेत मिले हैं जिसको देखते हुए जल्द से जल्द निगम अपनी ड्रीम प्रोजेक्ट को पूरा कर लेना चाहता है। उन्होंने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र में जल्द ही फुटटर व्यापारियों के लिए वेंडिंग जोन को स्थापित करा दिया जाएगा।

इस दौरान नगर निगम के सहायक नगर आयुक्त विनोद लाल, सहायक अभियंता आनंद मिश्रवाण, टैक्स निरीक्षक रमेश रावत, जेई उपेंद्र गोयल, पार्षद वीरेंद्र रमोला, पार्षद विपिन पंत, पार्षद बिजेंद्र मोगा, पार्षद विजय बडोनी, पार्षद कमलेश जैन, सुनील उनियाल, मदन कोठारी, विकास सेमवाल, गौरव कैंथोला आदि मौजूद रहे।

चिल्ड्रन होम एकेडमीः स्कूल प्रबंधक और हाॅस्टल वार्डन पर मुकदमा

रानीपोखरी के चिल्ड्रन होम अकादमी में बीते वर्ष 20 सितंबर 20196 को 13 वर्षीय छात्र अभिषेक रविदास पुत्र अजय रविदास निवासी पंजाब की मौत के बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस ने यह मुकदमा खंड शिक्षा अधिकारी की जांच रिपोर्ट के बाद किया है।

थानाध्यक्ष रानीपोखरी जितेंद्र चैहान ने बताया कि जांच में बात सामने आई है कि मृतक अभिषेक रविदास की लंबे समय से तबियत ठीक नहीं थी। 19 सितंबर 2019 को विद्यालय की ओर से जौलीग्रांट स्थित हिमालयन अस्पताल में उसे भर्ती कराया गया। यहां 20 सितंबर को उसकी मौत हो गई थी। मामले में मृतक के परिजनों ने बाल आयोग की शरण ली थी और मामले में दखल लेने को कहा था। इसके बाद मामले की जांच खंड शिक्षा अधिकारी डोईवाला उमा पंवार कर रही थी। खंड शिक्षा अधिकारी उमा पंवार ने रानीपोखरी थाने में चिल्ड्रन होम एकेडमी के प्रबंधक व हॉस्टल वार्डन के खिलाफ लापरवाही बरतने से छात्र की मौत का मुकदमा दर्ज कराया है।

आज घर गरीब की पहुंच प्रधानमंत्री कार्यालय तकः सीएम

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने बलवीर रोड, देहरादून में नमामि गंगे कार्यक्रम के अंतर्गत रिस्पना एवं बिन्दाल नदी के इन्टरसेप्शन कार्य एवं एक नग एसपीएस के निर्माण एवं अनुरक्षण कार्यों हेतु अनुमानित 63.75 करोड़ के कार्यों का भूमि पूजन एवं राजपुर विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत बलवीर रोड पर 1.48 करोड़ की लागत के रेन बसेरे का उद्घाटन किया। रिस्पना एवं बिन्दाल नदी पर होने वाले कार्यों में 177 नालों तथा रिस्पना नदी के तटवर्ती घरों के 2901 सीवर पाइपों को टैप कर शोधन करना, 32.40 किमी केरियर लाईन का कार्य, बिन्दाल नदी पर एक नग आई एण्ड डी संरचना, एक नग सीवर पम्पिंग स्टेशन का निर्माण एवं 15 वर्षों का अनुरक्षण एवं रखरखाव का कार्य किया जायेगा। ये कार्य नमामि गंगे योजना के तहत किये जायेंगे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने राजपुर विधानसभा क्षेत्र के लिए सड़कों के निर्माण हेतु 10 करोड़ रूपये देने की घोषणा की।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि रेन बसेरे के रूप में लोगों के लिए बलवीर रोड में एक अच्छा सुविधा केन्द्र बना है। इससे बस्ती और आस-पास के लोगों को काफी सुविधा होगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का गंगा की निर्मलता और अविरलता का जो सपना है, उन सपनों को पूरा करने का कार्य उत्तराखण्ड आने वाले चार माह में पूर्ण कर देगा। 135 नाले जो गंगा में गिरते थे, उनमें से 128 नाले टैप किये जा चुके हैं, शेष सात नाले भी जल्द टैप किये जायेंगे। उत्तराखण्ड में जो एसटीपी बने हैं, वे अत्याधुनिक किस्म के हैं।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि आज जो भी कार्य देश में हो रहे हैं, वे अत्याधुनिक तकनीक पर हो रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने कार्यों से भारत को विश्व पटल पर एक अलग पहचान दिलाई है। उन्होंने भारतीय संस्कृति एवं परम्पराओं की पहचान दुनिया को करवाई है। पूरे देश में हर घर शौचालय, लोगों को जन धन खातों से जोड़ने, हर घर में गैस कनेक्शन देने का कार्य प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया है। उन्होंने 2024 तक देश में हर घर नल एवं शुद्ध जल देने का लक्ष्य रखा है। ये सभी सुविधाएं इन मलिन बस्तियों में होंगी तो, ये मलिन बस्तियां गौरव बस्तियां बन जायेंगी। प्रदेश की मलिन बस्तियों को गौरव बस्तियां बनाने का कार्य राज्य सरकार कर रही है। दीनदयाल उपाध्याय ने कहा था कि जब तक गरीब व्यक्ति की पहुंच सरकार तक नहीं होगी, तब तक देश का पूर्ण विकास नहीं हो सकता। आज हर गरीब की पहुंच प्रधानमंत्री कार्यालय तक है। प. दीनदयाल उपाध्याय के सपने को पूरा करने का कार्य हो रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जल्द ही सौंग बांध का शिलान्यास किया जायेगा।

एसडीएम ने कैंप के जरिए लोगों को दी कोरोना से बचाव की जानकारी

इंदिरानगर ऋषिकेश के स्व. गैरोला स्मृति पार्क में पार्षद राजेंद्र प्रेम सिंह बिष्ट के नेतृत्व में कोविड-19 जागरूकता संबंधी कैंप का आयोजन किया गया। इसमें उप जिलाधिकारी वरूण चैधरी ने लोगों को कोरोना से न घबराने का आह्वान किया। कहा कि इससे बचने का उपाय फेस कवर, सैनिटाइजर, किसी भी वस्तु को खाने से पूर्व धोने, बाहर का खाना से बचने, मास्क पहनने आदि का उपयोग करने को कहा। मौके पर पूर्व जिला पंचायत सदस्य ज्योति सजवाण और वरिष्ठ नागरिक केएस थापा, डीपी रतूड़ी ने भी लोगों को कोरोना से बचाव की जानकारी दी। मौके पर करीब 56 लोगों के कोरोना टेस्ट राजकीय चिकित्सालय की टीम की ओर से किए गए। कैंप में कोरोना टेस्ट कराने हिंदू जागरण मंच के अध्यक्ष संजय प्रेम सिंह बिष्ट, दीपक रावत, आलोक कुमार, शुभम तोमर, अरविंद पवार, पंकज सिंघल, सुमित त्यागी, अजय गोयल, तरुण त्यागी, हर्षित धीमान, आयुष वालिया, शुभम वालिया, अमन वालिया, अंशुल धीमान, इंद्रसेन गर्ग, हारून, निखिल गुप्ता आदि पहुंचे।

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने किया नए प्रदेश कार्यालय का वर्चुअल शिलान्यास

भाजपा का प्रांतीय कार्यालय 50 वर्ष आगे के हिसाब से बनाया जाएगा। देशभर में पार्टी कार्याकर्ताओं के सहयोग से कार्यालय बनाए जा रहे है। यह बात भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कही। उन्होंने नई दिल्ली से उत्तराखंड के नए भाजपा कार्यालय का वर्चुअल शिलान्यास किया। मौके पर उन्होंने विपक्ष की टांग खींची।

उन्होंने कहा कि एक पार्टी का कार्यालय राजनेता के निवास स्थान से संचालित होता है तो इसका मतलब है कि पार्टी उस व्यक्ति की है। पर अन्य दलों के लिए ऐसा नहीं है। उनके मामले में परिवार पार्टी बन गया है। मगर, भाजपा के लिए पार्टी ही हमारा परिवार है।

कहा, कांग्रेस हो या कोई भी क्षेत्रीय पार्टी। सभी भाई-बहन, मां-बेटे की रक्षा करने में व्यस्त हैं। कहीं तो भतीजों के साथ अनबन चल रही है। परिवार ही उनके लिए पार्टी बन चुका है। देहरादून में कार्यक्रम में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, भाजपा के प्रदेश अध्घ्यक्ष बंशीधर भगत, सांसद तीरथ सिंह रावत, सांसद माला राज्यलक्ष्मी शाह, राज्यमंत्री डॉ. धन सिंह रावत आदि मौजूद थे। दिल्ली से राष्घ्ट्रीय अध्घ्यक्ष के साथ केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, सांसद अजय भट्ट और अजय टम्टा, राज्यसभा सदस्य अनिल बलूनी आदि मौजूद रहे।

गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा का नया प्रदेश कार्यालय खड़ा हो जाएगा, जो आधुनिक तकनीक और सुविधाओं से लैस होगा।

17 अक्टूबर को भाजपा प्रदेश कार्यालय का होने जा रहा शिलान्यास

भारतीय जनता पार्टी के नए प्रदेश कार्यालय का भूमि पूजन व शिलान्यास भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा 17 अक्टूबर को दिल्ली से वर्चुअल माध्यम से करेंगे। देहरादून में कार्यालय निर्माण स्थल पर आयोजित समारोह की अध्यक्षता भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत द्वारा की जाएगी और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की कार्यक्रम में गरिमामय उपस्थिति रहेगी।
भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ देवेंद्र भसीन ने बताया कि भाजपा उत्तराखंड का नया प्रदेश कार्यालय देहरादून में आउटर रिंग रोड पर बनाया जाना है। यह कार्यालय करीब 3 एकड़ भूमि पर बन रहा है और इसकी वास्तु कला पर्वतीय वास्तु कला के आधार पर तैयार की गई है इस कार्यालय में सभी आधुनिक सुविधाएं व तकनीकी तकनीकी उपकरण रहेंगे ।जहां इसमें पदाधिकारियों के कार्यालयों का निर्माण किया जाएगा।

इस कार्यालय के भवन निर्माण का भूमि पूजन व शिलान्यास भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा 17 अक्टूबर को प्रातः साढ़े 10 बजे दिल्ली से वर्चुअल माध्यम द्वारा करेंगे। उनके साथ केंद्र सरकार के मंत्री, सांसद व अन्य पार्टी पदाधिकारी उपस्थित रहेंगे। देहरादून में निर्माण स्थल पर होने वाले कार्यक्रम की अध्यक्षता भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत अध्यक्षता करेंगे और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की गरिमामई उपस्थिति रहेगी। कार्यक्रम में प्रदेश महामंत्री संगठन अजय कुमार, महामंत्री राजू भंडारी, कुलदीप कुमार आदि शामिल होंगे।

30 वर्षों के मेंटेनेंस एग्रीमेंट के साथ किया जा रहा हाईटेक शौचालयों का निर्माणः अनिता

ऋषिकेश नगर निगम की प्रथम मेयर अनिता ममगाईं ने तहसील परिसर पर हाईटेक शौचालय का शिलान्यास किया। स्वच्छ भारत मिशन एवं 14वें वित्त आयोग की मदद एवं शहरी विकास मंत्रालय के सहयोग से स्व. बडोनी चैक पर भी शौचालय का जीर्णोद्धार कर उसे जनता के सुपुर्द किया।

निगम अधिकारियों एवं अधिवक्ताओं की मौजूदगी में मेयर अनिता ने तहसील में तीस वर्षों के मेंटेनेंस एग्रीमेंट के साथ हाईटेक शौचालय का शिलान्यास किया। मेयर अनिता ने कहा कि विश्व प्रसिद्ध चार धाम यात्रा की मुख्य द्वार कहीं जाने वाली तीर्थ नगरी जोकि पर्यटन के लिए भी समूची दुनिया में एक विशेष पहचान रखती है, पिछले कई वर्षों से शौचालयों की कमी से जूझ रही थी। तीर्थाटन एवं पर्यटन के लिए आने वाले लोगों को इसकी वजह से भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था। खास तौर पर महिलाएं इसकी वजह से परेशान रहती थी। जिसको देखते हुए नगर निगम द्वारा देवभूमि की अंतरराष्ट्रीय ख्याति के अनुरूप यहां पर हाईटेक शौचालयों का निर्माण कराए जाने का निर्णय लिया गया था जिसके तहत प्रथम चरण में ऋषिकेश निगम के सात महत्वपूर्ण स्थानों पर फाइव स्टार होटलों के शौचालयों की तर्ज पर पर सुलभ शौचालय का निर्माण कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इससे जहां शौच मुक्त भारत का सपना साकार होगा वहीं शहर की जनता के साथ यहां वर्षभर आने वाले सैलानियों को भी इसका लाभ मिलेगा।मेयर अनिता ममगाई ने कहा कि अच्छे शौचालय देने का वायदा उन्होंने चुनावी घोषणा पत्र में किया था। योजना को जमीनी धरातल पर लाने के लिए कार्य प्रारंभ हो गया है। दो माह के भीतर ही इस प्रोजेक्ट को पूर्ण करा दिया जाएगा।

मौके पर सुरभि लोक संस्था के चेयरमैन आशीष तिवारी, एसएनए ऐलम दास, विनोद लाल, सहायक अभियंता आनंद मिश्रवाण, पार्षद राकेश मियां, विजय बडोनी, अनीता रैना, कमलेश जैन, कमला गुनसोला, लक्ष्मी रावत, भगवान सिंह पंवार, देवेन्द्र प्रजापति, मनीष शर्मा, जगत सिंह नेगी, शकुंतला शर्मा, विजय लक्ष्मी शर्मा, बार एसोसिएशन अध्यक्ष सूरत सिंह रौतेला, पूर्व अध्यक्ष राजेंद्र सजवान, सचिव सुनील नवानी, सुनील उनियाल, राजपाल ठाकुर, मन्नू कोठारी, अनिकेत गुप्ता, राजेश भट्ट, नेहा नेगी, राकेश पारछा, परीक्षित मेहरा, देवेंद्र दत्त कुरियाल, सुभाष भट्ट, अतुल यादव, धीरज डोभाल आदि मौजूद रहे।

प्रशासन की अनुमति के इंतजार में रामलीला के कलाकार, मंच सजकर तैयार

कोरोनाकाल में अनलॉक-5 के तहत अब विशेष शर्तों के साथ धार्मिक आयोजनों को अनुमति मिल रही है। वहीं, देहरादून जिले के ऋषिकेश में रामलीला मंचन को लेकर उहापोह की स्थिति बनी हुई है। रामलीला के लिए कलाकारों ने तैयारी तो कर ली है, लेकिन प्रशासन की अनुमति का इंतजार हो रहा है।

अक्टूबर से दिसंबर तक रामलीला, दुर्गापूजा, नवरात्र, दशहरा, ईद, क्रिसमस आदि के आयोजनों को प्रदेश सरकार ने मंजूरी दे दी है। कोविड 19 की गाइड लाइन के अनुसार कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। कार्यक्रमों एवं समारोहों में अधिकतम 200 लोग हिस्सा ले सकेंगे। आयोजकों को मास्क, थर्मल स्क्रीनिंग और दो गज की दूरी आदि नियमों का सख्ती से पालन करना होगा।

इस गाइडलाइन को कुछ दिन पूर्व जारी तो कर दिया गया, लेकिन हकीकत ये है कि रामलीला समितियों को अभी तक प्रशासन की ओर से अनुमति नहीं मिली है। अनुमति मिलने के बाद ही समितियां आर्थिक व्यवस्था, आयोजन के निमंत्रण, मंचन के लिए आवश्यक तैयारी आदि कर पाएंगी। ऐसे में पहले या दूसरे नवरात्र से रामलीला का मंचन करना कई रामलीला समितियों के लिए मुश्किल होगा।

ऋषिकेश में श्री रामलीला कमेटी सुभाष बनखंडी के महामंत्री हरीश तिवाडी ने बताया कि 1955 से लगातार यहां रामलीला का मंचन किया जा रहा है। रामलीला प्रांगण में हर साल नवरात्र से रामलीला का मंचन आरंभ होता था। इस वर्ष अयोध्या में श्री राम मंदिर के शिलान्यास को लेकर भी उत्साह का माहौल है। उन्होंने बताया कि इस बार भी रामलीला महोत्सव की सभी
तैयारियां पूर्ण हैं। अब प्रशासन की अनुमति पर आयोजन की स्थिति निर्भर है।

श्री रामलीला कमेटी सुभाष बनखंडी की विशिष्ट पहचान के फलस्वरूप ऋषिकेश के दूर-दूर के स्थानों से श्रद्धालुजन यहां आते रहे हैं। महामंत्री हरीश तिवाडी ने बताया कि चैपाई, रागिनी, गीत संगीत तथा मनोहारी कलात्मक दृश्यों के साथ आयोजित की जाने वाले श्री रामलीला में स्थानीय कलाकारों की ओर से मनोहारी आयोजन किया जाता रहा है। इस वर्ष श्री रामलीला की 62वी पुनरावृत्ति की जा रही है।

इस वर्ष के आयोजन की भी तैयारियां पूरी होने के साथ ही कोविद-19 महामारी के कारण जिला शासन-प्रशासन से आयोजन किये जाने की अनुमति के लिए अनुरोध किया जा चुका है। अनुमति मिलने के बाद ही श्री रामलीला महोत्सव-2020 के आयोजन की स्थिति स्पष्ट हो सकेगी। यदि अनुमति मिलती है तो रामलीला का मंचन सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन के अनुसार किया जाएगा।