लापता प्रेमी युगल के शव पेड़ में लटके मिले

उत्तर प्रदेश।
यूपी के जनपद हापुड के थाना धौलाना के गांव ककराना मे 27 तारीख से लापता प्रेमी युगल के शव मिलने से सनसनी फैल गई। दोनों के शव जंगल मे पेड़ से लटके मिले है। गांव का एक व्यक्ति सुबह अपने खेत पर जा रहा तभी उसने दोनों के शव को लटके देखा और उसने गांव मे इस बात की सूचना दी। गांव मे दोनों के शवों की बात आग की तरह फैलने लगी। गांव और आसपास के लोगों देखने के लिए मौके पर जुटने लगे । मौके से इस बात की सूचना दुसरे गांव वालों को दी ।
आपको बता दें थाना धौलाना के गांव ककराना मे पांच दिन पहले पंकज और कोमल नाम के प्रेमी युगल गायब हो गया था। कोमल के पिता ने पंकज सहित परिवार के लोगों पर अपहरण का मुकदमा दर्ज करा रखा था। आज ककराना के जंगल मे गांव के रहने वाले व्यक्ति ने दोनों के शवों को पड़े लटके देखा तो गांव मे सनसनी फैल गई। जब इस घटना के बारे मे पुलिस को बता चला तो पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गये। पुलिस ने दोनों के शवों को पड़े उतार कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। दोनों के शव कई दिन पुराने लग रहे है। मगर पुलिस आत्महत्या बताकर अपना पला झाड़ रही है। चर्चा के अनुसार, दोनों की हत्या से भी इंकार नहीं किया जा सकता है। पुलिस के बड़े अधिकारी दोनों बिन्दुओ की जांच कर रहे है।

जीएसटी पर भाजपा-कांग्रेस में बयानबाजी तेज

देहरादून।
केंद्र सरकार देशभर में जीएसटी लागू करने की तरफ कदम बढ़ा रही है। इस के साथ उत्तराखंड भी देश का पांचवा ऐसा राज्य बन गया है, जिसने एसजीएसटी बिल को अपनी विधानसभा में पास करा लिया है। जिसके बाद उत्तराखंड देश के उन राज्यों में से एक बन गया है जिसने जीएसटी को लागू कराने में अपनी भागीदारी सुनिश्चित कर ली है। साथ ही उत्तराखंड में जीएसटी पास होने से प्रदेश की सरकार इसे अपने लिए बड़ी उपलब्धि मान रही है। सत्ताधारी पार्टी बीजेपी की माने ये प्रदेश के सुधार की दिशा में एक अहम कदम है और इससे केंद्र और राज्य के बीच समान राष्ट्रीय बाजार की स्थापना होगी।
सदन में विपक्ष की भूमिका निभा रही कांग्रेस ने भले ही एसजीएसटी को लेकर कोई विरोध नहीं किया। लेकिन विधानसभा के बाहर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जीएसटी को यूपीए सरकार की उपलब्धि बता रहे है। उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत ने जहां एक तरफ जीएसटी का स्वागत किया तो वहीं केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर बीजेपी रोड़ा ना अटकाती तो देश मे जीएसटी पांच साल पहले ही लागू हो जाता। उनका कहना है कि मनमोहन सिंह की सरकार ही जीएसटी बिल को संसद मे पहली बार लेकर आई थी।

श्रद्धालुओं ने गंगा मैय्या का जन्मदिन मनाया

ऋषिकेश।
मंगलवार को वैशाख मास की सप्तमी पर गंगा का जन्म दिवस ऋषिनगरी में धूमधाम से मनाया गया। सुबह से ही त्रिवेणी घाट के गंगा तट पर श्रद्धालुओं के आने का सिलसिला शुरू हो गया। श्रद्धालुओं ने गंगा स्नान कर गंगा की जलधारा में प्रसाद चढ़ाकर मां गंगा को जन्मदिन की शुभकामनाएं दी। श्री गंगा महासभा की ओर से मंगलवार को विशेष गंगा आरती का आयोजन किया गया।
गंगा महासभा के धीरेन्द्र जोशी ने बताया कि गंगा सप्तमी को गंगा मैय्या का जन्म दिन धूमधाम से मनाया गया। गंगा सप्तमी की जानकारी देते हुए बताया कि इस दिन गंगा स्वर्ग से भगवान शिव की जटाओं में समाईं थीं। तभी से इस दिन को गंगा जन्मोत्सव के रूप में मनाया जाता है। श्री गंगा महासभा की विशेष आरती में स्थानीय लोगों व तीर्थयात्रियों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया। आरती के बाद गंगा जन्मोत्सव पर खुशी मनाते हुए महासभा की ओर से श्रद्धालुओं में प्रसाद का वितरण भी किया गया।
मौके पर जगमोहन मिश्रा, जगदीश शास्त्री, आशीष पैन्यूली, राहुल शर्मा, चेतन स्वरुप भटनागर, नितिन, श्री चंद शर्मा, नरेश भारद्वाज, नरेश चौहान, विनोद अग्रवाल, महेश गुप्ता आदि मौजूद रहे।

गंगा को स्वच्छ रखने का संकल्प

ऋषिकेश।
मंगलवार को गंगा सप्तमी पर गंगा विचार मंच, भाजपा कार्यकर्ता और स्कूली छात्रों ने त्रिवेणी घाट परिसर में स्वच्छता अभियान चलाया। मंच की प्रदेश सह संयोजक नगीना रानी के नेतृत्व में डोईवाला और ऋषिकेश के सैकड़ों कार्यकर्ता व रेडिएंट पब्लिक स्कूल के छात्रों ने गंगा घाटों की सफाई की। नगीना रानी ने बताया कि गंगा विचार मंच द्वारा आज पूरे देश में गंगा अवतरण के दिन को संकल्प दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। प्रदेश मंत्री व परवादून के प्रभारी सुनील उनियाल गामा ने बताया कि मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत के निर्देश पर डोईवाला विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं ने गंगा को स्वच्छ रखने का संकल्प लिया। रेडिएंट पब्लिक स्कूल के छात्रों व कार्यकर्ताओं ने आस्था पथ पर भी सफाई अभियान चलाया।
सफाई अभियान में नेशनल मिशन स्वच्छ गंगा नई दिल्ली के राष्ट्रीय सलाहकार डॉ. संदीप मेहरा, वरिष्ठ नेता रामेश्वर लोधी, महिला मोर्चा की प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य आशा कोठारी, पूर्व दायित्वधारी संदीप गुप्ता, नगर पालिका डोईवाला के अध्यक्ष कोमल कन्नौजिया, जिला पंचायत सदस्य लक्ष्मी सजवान, कुसुम अग्रवाल, नगर पालिका ऋषिकेश के सफाई निरीक्षक सचिन रावत व अरविन्द डिमरी, ग्राम प्रधान परमिन्दर सिंह, कपिल गुप्ता, विनित लोधी, रेडिएंट पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य हंसी अधिकारी, मंजू शर्मा, अनीता सिंह, सुरेन्द्र कौल, चरणजीत सिंह, सुष्मिता थापा, रूपचंद, संजीव लोधी, प्रवीण आदि मौजूद रहे।

शो रुम का ताला तोड़ 10 लाख की चोरी

ऋषिकेश।
हरिद्वारमार्ग पर पीएनबी बैंक के सामने ग्रीन एकले शोरूम है। शोरूम का संचालन आशुतोष कोठारी करते हैं। मंगलवार सुबह शोरूम के पास समोसे की दुकान के कर्मचारी ने ताला टूटा देखा। एक शटर भी थोड़ा उठा हुआ दिखा। आसपास के दुकानदारों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। इस बीच शोरूम संचालक के परिजन भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने शोरूम मालिक को इसकी जानकारी दी। शोरूम मालिक के शहर से बाहर होने के कारण चोरी किए गए माल का ब्योरा अभी पुलिस को नहीं मिल पाया है लेकिन परिजनों के मुताबिक दस से बारह लाख के कपड़े चुराये गये है। चोरी किए गए माल में लाखों रुपये की साड़ी और महंगे सूट हैं। खास बात यह है कि जहां चोरी हुई है, वहां पीएनबी का गार्ड व पुलिस मौजूद रहती है। खास बात यह है कि चारधाम यात्रा के कारण हरिद्वारमार्ग पर पूरी रात वाहनों के साथ लोगों का आवागमन लगा रहता है। प्रशिक्षु आईपीएस एवं कोतवाली का कार्यभार देख रही निहारिका का कहना हैकि चोरी किए गए माल का ब्यौरा जुटाया जा रहा है। शोरूम मालिक के लौटने क बाद सही पता चल पायेगा। आसपास के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जा रहे हैं। जल्द चोर पकड़ लिये जायेंगे।

पॉक्सो कानून के बारे में दी गई जानकारी

ऋषिकेश।
मंगलवार को श्री भरत मंदिर इंटर कॉलेज के परशुराम हॉल में पुलिस के सर्वोदय अभियान का समापन हो गया। तीन दिवसीय अभियान के समापन पर वरिष्ठ अधिवक्ता सुभाष भट्ट ने छात्रों और महिलाओं को कानून संबंधी जानकारियां दीं। बताया कि नाबालिग के साथ शारीरिक शोषण या दुर्घटना होने पर जिले स्तर पर डिस्ट्रिक्ट सेल (डीसीपीयू) और स्थानीय स्तर पर (एसजेपीयू) का गठन किया गया है। पुलिस की सहायता नहीं मिलने पर पीड़ित सीधे इन दोनों सेलों से सपंर्क कर सहायता ले सकते हैं। उन्होंने बताया कि सरकार की ओर से पीड़ित को मेडिकल, लैग्वेज ट्रांसलेटर, वकील और क्षतिपूर्ति की सहायता दी जाती है।
अधिवक्ता ने पॉक्सो अधिनियम-2012 के बारे में विस्तृत जानकारी भी दी। साथ ही महिला कानून, बाल संरक्षण, भरण पोषण, तलाक आदि कानूनों की बारीकियां भी समझाईं। सर्वोंदय अभियान में छात्राओं को आत्मरक्षा के गुर भी सीखाए गए। प्रशिक्षु आईपीएस निहारिका भट्ट ने बताया कि तीन दिवसीय सर्वोंदय अभियान का मंगलवार को समापन हो गया। उन्होंने छात्रों व महिलाओं से अपने आसपास और समाज में इन जानकारियों का आदान-प्रदान करने की अपील की। कहा कि आज की नौजवान पीढ़ी पर सामाजिक कुरीतियों को खत्म करने और कानून का सही पालन कराने की जिम्मेदारी है।

आईपीएस बताने वाले की कोतवाली में पिटाई

ऋषिकेश।
मंगलवार सुबह 11 बजे रितेश राजपूत पुत्र राजेश राजपूत निवासी चंदनपुरा, रोहताश, बिहार निवासी खुद को आईपीएस बताकर ऋषिकेश थाने पहुंचे और पुलिस पर रौब झाड़ने लगे। वह खुद के खोए बैग को ढूढ़ने के लिए दबाव बनाने लगे। खुद को 2014 बैच का आईपीएस बताने से उनकी पोल खुलनी शुरू हो गई। उन्हें क्या पता था कि प्रशिक्षु आईपीएस 2015 बैच की है। इस बीच प्रशिक्षु आईपीएस ने उनसे आईकार्ड मांगा जो फर्जी निकला जिस पर सीबीआई लिखा था। यह देखकर प्रशिक्षु आईपीएस सकते में आ गईं। आईकार्ड नकली था जिसपर थाने में ही पुलिस ने उसकी पिटाई शुरू कर दी गई। उसके खिलाफ फर्जी दस्तावेज तैयार करने का मुकदमा दर्ज किया गया है। कोतवाली प्रभारी निहारिका भट्ट ने बताया कि वह स्वयं 2015 बैच की आईपीएस हैं। इसलिए वह 2014 बैच के सभी अधिकारियों को जानती है। इसलिए आरोपी पकड़ में आ गया। उसके खिलाफ फर्जी दस्तावेज तैयार करने में मामला दर्ज किया गया है।

एफआईआर दर्ज नहीं करने पर आमरण अनशन की चेतावनी

ऋषिकेश।
मंगलवार को छात्र संघ सह सचिव सौरभ वर्मा ऑटोनॉमस कॉलेज में तीसरे दिन भी क्रमिक अनशन में डटे रहे। उन्होंने एसडीएम ऋषिकेश को पत्र भेजकर छात्रसंघ कोष में गड़बड़ी करने के आरोप लगाए। कहा कि जब शहीदों के नाम पर छात्र संघ समारोह स्थगित किया गया है तो छात्रसंघ कोष को कौन डकार रहा है। उन्होंने अपनी पूर्व की मांग को यथावत रखते हुए छात्रसंघ कोष में जमा डेढ़ लाख रुपये को शहीदों को देने की मांग की। बताया कि छात्रसंघ कोष का दुरुपयोग करने वालों के खिलाफ अगर कार्रवाई नहीं होती है तो वह बुधवार से आमरण अनशन पर बैठेंगे।
वहीं, उनके समर्थन में एनएसयूआई और कांग्रेस के नेता अब खुलकर आ गए हैं। सभासद दल के नेता मनीष शर्मा और महिला कांग्रेस अध्यक्ष मधु जोशी के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कोतवाली में पुलिस से मुलाकात कर छात्रसंघ कोष का पैसा हड़पने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की। बताया कि जब छात्रसंघ समारोह हुआ ही नहीं तो छात्रसंघ कोष को खर्च कैसे दिखाया जा रहा है। उन्होंने कार्रवाई नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी। मौके पर एकांत गोयल, जितेन्द्र पाल, अभिनव मलिक, अजय धीमान, गौरव राणा, शिवा त्यागी, आशीष थापा, दीपक थापा, राहुल प्रजापति, राहुल कश्यप आदि मौजूद रहे।

पाक को मुहंतोड़ जवाब देने की मांग

ऋषिकेश।
रेलवे रोड स्थित कांग्रेस भवन के सामने कार्यकर्ताओं ने पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारों के साथ प्रदर्शन किया। इस दौरान कांग्रेसियों ने कहा कि पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर और सीमाओं पर लगातार हमलावर है। सैनिक शहीद हो रहे हैं जिससे देशभर में गुस्सा है। चुनाव से पहले पीएम नरेंद्र मोदी पाक को करारा जवाब देने की बात करते थे। मगर, सत्ता में आने और सर्जिकल स्ट्राइक के बाद आतंकी घटनाएं और भी बढ़ी हैं। देश की सीमाएं और आंतरिक क्षेत्र सुरक्षित नहीं हैं।
कार्यकर्ताओं ने कहा कि अब पाकिस्तान की निदां करने और करारा जवाब देने जैसे बयानों से काम नहीं चलने वाला। पाक को उसी की भाषा में जवाब दिया जाना चाहिए ताकि देश में आतंकी घटनाओं को विराम लगे और शांति स्थापित हो सके। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने पाक का पुतला भी दहन किया।
प्रदर्शन में जिलाध्यक्ष जयेंद्र रमोला, कार्यवाहक नगर अध्यक्ष शिवमोहन मिश्रा, सभासद मनीष शर्मा, धर्मेंद्र गुलियाल, अब्दुल रहमान, मुकेश जाटव, चंद्रकांता जोशी, नंदकिशोर जाटव, विमला रावत, रविंद्र बिरला, जगजीत सिंह, मंजू शर्मा, अजय धीमान, प्राशु बनर्जी, वेदप्रकाश धींगड़ा, शिवम त्यागी, राजेश शाह, अमरदीप सिंह, अब्दुल सिद्दिकी, शैलेश जैन आदि शामिल थे।

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने टंचिंग ग्राउंड का निरीक्षण किया

ऋषिकेश।
मंगलवार को नगर पालिका ऋषिकेश को शासन की ओर से टंचिंग ग्राउंड बनाने के लिए आवंटित दस एकड़ भूमि का उत्तराखंड प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने निरीक्षण किया। श्यामपुर खड़कमाफ में ग्राम समाज की भूमि का निरीक्षण करने पहुंचे सहायक आयुक्त डॉ. अनिल सिंह ने हाईकोर्ट के आदेश पर भूमि की पैमाइश की। उन्होंने प्रस्तावित टंचिंग ग्राउंड से पॉलीटेक्निक कॉलेज, गंगा नदी व आबादी से दुरी नापी। बताया कि शीघ्र ही जांच रिपोर्ट तैयार कर हाईकोर्ट को प्रेषित की जायेगी।
गौरतलब है कि ग्राम समाज की भूमि में टंचिंग ग्राउंड बनाने का ग्रामीण विरोध कर रहे है। ग्रामीणों के द्वारा हाईकोर्ट में एक याचिका डाली गयी थी, जिस पर कोर्ट ने कुछ दिन पूर्व ही गंगा को जीवित व्यक्ति मानते हुए सरकार व गंगा को नोटिस जारी करते हुए कुछ बिन्दुओं पर जवाब तलब किया है। इसी के मद्देनजर उत्तराखंड प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारियों ने मंगलवार को उक्त भूमि का स्थलीय निरीक्षण किया है।

प्रस्तावित भूमि की जानकारी ही नही
मौका मुआयना करने आये अधिकारियों को प्रस्तावित भूमि की सही जानकारी नही थी। खसरा नबर 22 की जानकारी नही होने पर स्थानीय लोग ही अधिकारियों को प्रस्तावित भूमि पर ले गये। ग्राम प्रधान सरोप सिंह पुण्डीर, पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष शांति प्रसाद थपलियाल, वीरेन्द्र रयाल, ईश्वर सिंह, करम सिंह चौधरी ने खसरा नबंर 22 की जानकारी दी। बताया कि प्रशासन ने अभी तक प्रस्तावित भूमि का पैमाइश नही की है। इस लिए प्रस्तावित टंचिंग ग्रांउड की भूमि का पालिका के अधिकारियों को भी पता नही है। मौके पर नगर पालिका के सफाई निरीक्षक सचिन रावत भी मौजूद रहे।

आज संयुक्त सर्वे करेगा प्रशासन
एसडीएम ऋषिकेश वृजेश कुमार तिवारी ने बताया कि खसरा नंबर 22 का बुधवार को पालिका प्रशासन, रवेन्यू विभाग व तहसील स्तर पर संयुक्त सर्वे किया जायेगा। गौरतलब है कि दो वर्ष से अधिक का समय बीत चुका है लेकिन प्रशासन ने नगर पालिका को आवंटित भूमि की पैमाइश और नक्शा नजीर नही सौंपे है। अभी तक आवंटित भूमि का सही जानकारी किसी के पास नही है। सिर्फ ग्रामीणों को ही आंवटित भूमि की जानकारी है। अब हाईकोर्ट के आदेश के बाद प्रशासन में हड़कंप होने से बुधवार को भूमि बंदोबस्त के कर्मचारी भी मौके पर मौजूद रहेंगे।